क्या, कब, कहाँ, और कैसे – Class 6 History Chapter 1 Notes

0 Comments

Kya Kab Kahan Or Kaise – क्या, कब, कहाँ और कैसे?

 

नर्मदा नदी के तट पर रहने वाले आरंभिक लोगों में से कुछ कुशल संग्राहक तथा आखेटक थे|

उत्तर-पश्चिम की सुलेमान तथा गिरधर पहाड़ियों में कुछ ऐसे स्थान मौजूद हैं जहां लगभग 8000 वर्ष पूर्व गेहूं या जौ जैसी फसलें उपजाना शुरू किया गया और इन्होंने ही भेड़ बकरी और गाय बैलों को पालतू भी बनाना शुरू किया|

उत्तर-पूर्व में गारो तथा मध्य भारत में विंध्य पहाड़ियों मैं कुछ ऐसे क्षेत्र थे जहां कृषि का विकास हुआ| विंध्य पहाड़ियों के उत्तर में वे स्थान थे जहां सर्वप्रथम चावल उपजाया गया था|

लगभग 4700 वर्ष पूर्व सिंधु तथा इसकी सहायक नदियों के किनारे कुछ आरंभिक नगर बसे|

समुद्री तटवर्ती इलाकों में तथा गंगा और उसकी सहायक नदियों के किनारे नगरों का विकास लगभग 2500 वर्ष पूर्व हुआ|

गंगा के दक्षिण में इसकी सहायक नदियों के आसपास का क्षेत्र प्राचीन काल में मगध(बिहार) के नाम से जाना जाता था| इस क्षेत्र के शासक बहुत शक्तिशाली थे और उन्होंने एक विशाल राज्य की स्थापना भी की थी|

इंडिया शब्द की उत्पत्ति इण्डस शब्द से हुई है जिसे संस्कृत में सिंधु कहा जाता हैं|

लगभग 2500 वर्ष पूर्व उत्तर-पश्चिम की ओर से आने वाले ईरानियों और यूनानियों ने सिंधु को इंदोस और नदी के पूर्व में स्थित क्षेत्र को इंडिया कहा|

भारत के उत्तर-पश्चिम में रहने वाले लोगों के एक समूह के लिए भरत नाम का प्रयोग किया जाता था इस समूह का उल्लेख संस्कृत की आरंभिक कृति ऋग्वेद(लगभग 3500 वर्ष पुरानी कृति) में भी मिलता है|

♦ पांडुलिपि:- पांडुलिपि को अंग्रेजी में मेन्युस्क्रिप्ट कहा जाता है जिसकी उत्पत्ति लेटिन शब्द मेनू से हुई है जिसका अर्थ हैं- हाथ| ताड़पत्रों तथा हिमालय क्षेत्र में उगने वाले भूर्ज नामक पेड़ की छाल से तैयार भोजपत्रों पर हस्तलिखित लिपियां पांडुलिपि कहलाती है|

♦ अभिलेख:- ऐसे लेख, जो किसी पत्थर या धातु समान सतहों पर उत्कीर्णित मिलते हैं, अभिलेख कहलाते हैं| सामान्यतः शासक अथवा अन्य लोग अपने आदेशों या लड़ाइयों का लेखा-जोखा उत्कीर्ण करवाते थे|

तिथियाँ:- तिथियों का वर्तमान स्वरूप भारत में लगभग 200 वर्ष पूर्व से उपयोग करना शुरू हुआ| इन तारीखों की गणना ईसाई धर्म प्रवर्तक ईसा मसीह के जन्म वर्ष से किया जाता हैं| 

 

​बी.सी.(BC) : बिफोर क्राइस्ट(ईसा पूर्व)

​ए.डी(AD) : एनो डॉमिनी(ईसा मसीह का जन्म वर्ष)

​सी.ई.(CE) : कॉमन एरा 

​बी.सी.ई.(BCE) : बिफोर कॉमन एरा

​बी.पी.(BP) : बिफोर प्रजेंट(वर्तमान से पूर्व)

 

अन्यत्र: मिस्र के रोसेट्टा नाम के कस्बे से एक ऐसा उत्कीर्णित एक ऐसा पत्थर मिला है जिस पर एक ही लेख को 3 भिन्न-भिन्न भाषाओं में लिखा गया है इसे कारतूश कहा जाता हैं|

 

महत्वपूर्ण प्रश्नावली संग्रह:

  1. पहला बडा़ राज्य कौनसा था? – मगध
  2. ऋग्वेद की रचना कब हुई? – लगभग 3500 वर्ष पूर्व
  3. पांडुलिपि लिखी जाती थी? – ताड़पत्रों और भोजपत्रों पर

सुमेलित करना- 

नर्मदा घाटी- शिकार तथा संग्रहण 

मगध- पहला बडा़ राज्य

सिंधु तथा इसकी सहायक नदियाँ-  प्रथम नगर

गंगा घाटी-  लगभग 2500 वर्ष पूर्व के नगर

Tags: , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published.